Thursday, 16 Aug 2018

सीलिंग का कहर : कनॉट प्लेस में पांच दिन पहले खुले रेस्टोरेंट सहित 30 दुकानें हुईं सील

सीलिंग का कहर : कनॉट प्लेस में पांच दिन पहले खुले रेस्टोरेंट सहित 30 दुकानें हुईं सील
Ajay Singh, southdelhinews.com
सुप्रीम कोर्ट की मॉनिटरिंग कमेटी के निर्देश पर गुरूवार को नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) और तीनों नगर निगमों ने अलग-अलग इलाकों में करीब 30 दुकानें सील कर दीं। इसमें कनॉट प्लेस में स्टिल्ट पार्किंग में पांच दिन पहले खुला रेस्टारेंट भी शामिल है। इसके अलावा अवैध रूप से बने चार भवन भी गिराए गए हैं। सरकारी जमीन और फुटपाथ से कब्जा हटाते हुए 272 सामान और 89 वाहन जब्त किए गए। इनके अलावा 11 फैक्ट्रियों को भी सील किया गया।
एनडीएमसी का दस्ता गुरूवार सुबह एम ब्लॉक में कार्रवाई करने पहुंचा। इस दौरान एम-13 स्थित स्टिल्ट पार्किंग में चल रहे तंदूरी वाब्ज नामक रेस्टारेंट को सील कर दिया। यह रेस्टारेंट रविवार को ही शुरू हुआ था। इसके अलावा एम-14 स्थित पशुपति एक्रोलिन लिमिटेड और एम-5 में एक अन्य फर्म के स्टिल्ट पार्किंग में चल रहे ऑफिस को सील कर दिया।
साउथ दिल्ली नगर निगम के पश्चिम जोन के तिलक नगर मार्केट, राजा गार्डन बसई दारापुर चौक से जनकपुरी ईस्ट मेट्रो स्टेशन के बीच अतिक्रमण हटाया गया। यहां से 26 फोर व्हीलर और 4 रेहड़ी जब्त की गईं। दुकानदारों की ओर से आगे बढ़ाए गए 17 ढांचे और 63 स्थाई ढांचे जेसीबी से ध्वस्त किए गए। इसके साथ 9 खोखे और अवैध दुकानें ढहाई गई।
नजफगढ़ जोन में शकुंतला नर्सिंग होम से सागरपुर नाला रोड पर गांधी चौके के बीच कार्रवाई की गई। 4 किलोमीटर की सड़क के दोनों तरफ से अतिक्रमण हटाया गया। 3 हजार वर्ग फुट सरकारी जमीन खाली कार्रवाई गई।
मध्य जोन के जामिया नगर से 33 सामान, 3 रेहड़ी और 2 वाहन जब्त किए।
नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) ने कनॉट प्लेस में ब्रिटिश राज में बने भवनों की छत पर अवैध तरीके से रखे डीजल जेनरेटर हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। अब तक की कार्रवाई में 7 जेनरेटर हटाए जा चुके हैं। कनॉट प्लेस से 200 जेनरेटर हटाएं जाने हैं। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मॉनिटरिंग कमेटी के निर्देश पर एनडीएमसी जेनरेटर हटा रही है। मंगलवार को एन ब्लॉक से पांच जनरेटर हटाए गए। इसके बाद गुरुवार को दोबारा कार्रवाई शुरू की गई और एम ब्लॉक से दो जेनरेटर हटाए गए।
print

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *